Saturday, December 19, 2009

मनोज तिवारी ने रातभर बहायी संगीत की सरिता

Dec 18, 09:55 pm
बक्सर किला मैदान में गुरुवार को रात आयोजित व्याघ्रसर महोत्सव का दूसरा सत्र मनोज तिवारी के नाम रहा। आधी रात को जैसे ही भोजपुरी के अमिताभ बच्चन कहे जाने वाले मनोज तिवारी ने मंच संभाला पास बह रही गंगा की लहरें भी हिलोरे मारने लगी। संगीत की माला से एक-एक कर मोती श्री तिवारी दर्शकों की नजर करते रहे और पूरा माहौल उनके एक-एक इशारे पर नाचते रहा। हालांकि भोजपुरी सुपर स्टार को देखकर भीड़ कई बार बेकाबू भी हुयी। दर्शकों ने ईट-पत्थर फेंकना शुरू कर दिया। जिससे सुरक्षा बलों को लाठी चार्ज करना पड़ा। इससे आधा दर्जन दर्शकों के घायल होने की भी सूचना है। व्याघ्रसर महोत्सव में बेकाबू हुयी भीड़ से अधिक परेशानी महिला दर्शकों को उठानी पड़ी। इधर, महोत्सव में आये मनोज तिवारी ने इटाढ़ी के बैरी में सात मार्च को आयोजित कार्यक्रम में आने का वायदा भी किया। किला मैदान में मंच पर आते ही भोजपुरी स्टार गायक ने देवी गीत से शुरूआत किया। जिसके बाद इंटरनेशनल लिट्टी चोखा, बगल वाली जान मारेली व ए चम्पा चमेली सहित कई गीत लोगों को सुनाया। जिससे उपस्थित लोग झूमने पर विवश हो गये। वहीं हम बिहारी दिल ह भोला भाला गीत पर श्रोता हाथ उठाकर कलाकार का उत्साह व‌र्द्वन करने लगे। साथ ही कल्लू, वर्षा तिवारी प्रतिभा सिंह सहित अन्य गायकों ने भी अपने गीतों से समारोह को लबरेज कर दिया। इस दौरान दिलीप सिंह, प्रेम चौबे व सुनील सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

रानी पद्मावती शौर्य सम्मान 2017 प्रतिभा सिंह को

साभारः प्रभात खबर साभारः दैनिक भास्कर साभारः आईनेक्स्ट साभारः हिन्दुस्तान